विश्व के प्रमुख घास के मैदान और वर्गीकरण

घास के मैदान या विहारभूमि या चमनज़ार ऐसे विस्तृत क्षेत्र को कहते हैं जहाँ दूर-दूर तक घास और छोटे झाड़ फैले हुए हों। ऐसी जगहों पर जहाँ-तहाँ वृक्ष भी हो सकते हैं लेकिन भूमि के अधिकतर हिस्से पर घास ही बिछी हुई होती है। अंटार्कटिका को छोड़कर घासभूमियाँ हर महाद्वीप पर पाई जाती हैं और अक्सर स्थानीय नामों से जानी जाती हैं। दक्षिणी अफ़्रीका में इसे ‘वॅल्ड’, उप-सहारवी अफ़्रीका में ‘सवाना’, यूरोप व एशिया में ‘स्तेपी’, उत्तर अमेरिका में ‘प्रेरी’ और दक्षिण अमेरिका में ‘पाम्पास’ के नाम से जाना जाता है।

भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी इलाक़ों में घासभूमि के छोटे क्षेत्रों को ‘मर्ग’ कहा जाता है। वह घासभूमि जिसका प्रयोग जानवर चराने के लिये किया जाता हो, उसे अक्सर चारागाह भी कहा जाता है। विश्व के अलग भागों की घासभूमियों में घास की जातियों में भी अंतर होता है। दक्षिण अमेरिका के उत्तरी भाग और दक्षिण अफ़्रीका की घासभूमियों में घासों की सबसे अधिक जातीय विविधता पाई गई है। पम्प्पास घास रहित मैदान होते है।

प्रमुख घास के मैदान

प्रेयरीज (Prairies) – उत्तरी अमेरिका
लानोज (llanos) – अमेजन नदी के उत्तरी ओरनीको बेसिन
कम्पास (Campos) – अमेजन नदी के दक्षिण भाग में ब्राजील
कटिंगा (cutting) – ब्राजील के उष्ण कटिबंधीय वन
पार्कलैण्ड (parkland) – अफ्रीका
पम्पास (pampas) – द.अफ्रीका(अर्जेण्टीना के मैदानी भागों में)
वेल्ड (Veld) – द.अफ्रीका के भूमध्य सागरीय जलवायु में
डाउंस (Downs) – आस्ट्रेलिया(मरे-डार्लिंग बेसिन में)
स्टेपीज (Steppe) – यूरेशिया

अवस्थिति के आधार पर घास के मैदान के प्रकार

अवस्थिति के आधार पर Grasslands को दो भागों में बांटा जाता है।
1. उष्णकटिबंधीय Grasslands
2. शीतोष्ण कटिबंधीय Grasslands

उष्णकटिबंधीय घास के मैदान

इस प्रकार के घास के मैदानों का विस्तार दोनों गोलार्धों में ‘विषुवतरेखीय सदाबहार वनों तथा उष्ण मरुस्थली’ क्षेत्रों के बीच (5°C से 20°C उत्तरी एवं दक्षिणी आक्षांशों) पाया जाता है। इस प्रकार के घास के मैदान का विस्तार सबसे अधिक अफ्रीका महाद्वीप में है। इसके अलावा इस प्रकार के Grasslands का विस्तार दक्षिण अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में है। दक्षिण अमेरिका में अमेजन बेसिन द्वारा यह मैदान दो भागों में विभक्त है। उत्तर का भाग लैनास और दक्षिण भाग कैम्पास के नाम से जाना जाता है।

सवाना (Savanna), अफ्रीका
लैनाॅस (Lianos), दक्षिण अमेरिका
कैम्पास (Campos), दक्षिण अमेरिका
उत्तरी प्रदेश और क्वींसलैंड, ऑस्ट्रेलिया

शीतोष्ण कटिबंधीय घास के मैदान

शीतोष्ण कटिबंधीय घास के मैदानों का विस्तार दोनों गोलार्धों में 23.5° से 66.5° अक्षांश के मध्य में है। इसका अधिकतर विस्तार यूरेशिया में “स्टेपी” (Steppe) घास के मैदान के रूप में है। जिसका विस्तार काला सागर से लेकर के अल्ताई पर्वत तक लगभग 3000 किलोमीटर के क्षेत्र में है। शीतोष्ण घास के मैदानों को उत्तरी अमेरिका में प्रेयरी, दक्षिण अमेरिका में पंपास, अफ्रीका में वेल्ड और ऑस्ट्रेलिया में डाउंस के नाम से जाना जाता है।

स्टेपी (Steppe), युरेशिया
प्रेयरी (Prairies), उत्तरी अमेरिका
पम्पास (Pampas), दक्षिण अमेरिका
वेल्ड (Veld), अफ्रीका
डाउन्स (Downs), ऑस्ट्रेलिया

 

Leave a Comment